Raksha Bandhan 2018, Raksha Bandhan 2018, Date & Time

Raksha Bandhan 2018, Date & Time

Raksha Bandhan 2018

26th August

Raksha Bandhan Thread Ceremony Time – 05:59 to 17:25

Aparahan Muhurat – 13:39 to 16:12

Purnima Tithi Begins – 15:16 (25th August)

Purnima Tithi Ends- 17:25 (26th August)

Bhadra got over before sunrise

Raksha Bandhan celebrates the bond between brothers and sisters. As the concept of love and duty between siblings is universal, this festival is popular with many cultures in India and transcends its Hindu origin.

हिन्दू पंचांग के अनुसार श्रावण मास की पूर्णिमा के दिन रक्षाबंधन का त्योहार मनाया जाता है. रक्षाबंधन के ठीक सात दिन बाद अष्टमी तिथि को श्री कृष्ण जन्माष्टमी मनाई जाती है.  रक्षाबंधन का त्योहार राखी के नाम से भी प्रचलित है. हिन्दू धर्म के सबसे बड़े त्योहारों में से एक रक्षाबंधन इस बार 26 अगस्त 2018 को मनाया जाएगा.

रक्षाबंधन का त्योहार भाई-बहन का पार्व है. बहन भाई की कलाई पर रक्षासूत्र बांधती है और उसके लंबे उम्र की कामना करती है. भाई अपनी बहन को वचन देता है कि वह ताउम्र उसकी रक्षा करेगा. इस पर्व की सबसे खास बात यह है कि इसे सिर्फ हिन्दू ही नहीं, बल्कि अन्य धर्म के लोग जैसे कि सिख, जैन और ईसाई भी हर्षोल्लास के साथ इसे मनाते हैं.

इस बार रक्षाबंधन का पर्व 26 अगस्त को सावन महीने की पूर्णिमा को मनाया जाएगा. इस बार 26 अगस्त रविवार है. साल 2017 में रक्षाबंधन 7 अगस्त को था. लेकिन 7 अगस्त को चंद्रग्रहण भी था. ग्रहण लगने के कारण राखी मनाने का समय 3 घंटे से भी कम था.

What is Raksha Bandhan?

Raksha Bandhan often called Rakhi for short, is a festival observed by Hindus – and some Jains – all over the world.

Rakhi is all about celebrating love and duty between brothers and sisters, with the festival’s full name meaning “bond of protection”.

It is also used to celebrate friendships between people with a brother-sister kind of bond, but who aren’t actually related.

Brothers and sisters will share gifts and take part in a short ritual celebration to mark their appreciation for one another.

As part of this, sisters will tie a sacred thread, the rakhi, on their brothers’ wrist to symbolize their love and best wishes.

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.