Who is Lona Chamari?

लोना चमारी काफी अच्छे तांत्रिको में आती है और शाबर मंत्र की दुनिया में इनका बड़ा ही महत्व है विद्वान जानकारों के मत अनुसार लोना चमारी कई प्रकार की होती है

लोना चमारी पंजाब

के अमृतसर शहर के चमार गाँव की रहने वाली थी | वह बहुत बड़ी जादूगरनी थी | किसी भी शाबर मंत्र को जाग्रत करने में इस लोना चमारी की दुहाई का बड़ा महत्व था |

लोना चमारी  Lona Chamari उतर प्रदेश

दूसरी लोना चमारी उतर प्रदेश के जिला सुल्तानपुर के एक ठाकुर की पत्नी थी | वे भी बहुत बड़ी तांत्रिक थी |

लोना चमारी Lona Chamari राजस्थान

एक और अन्य लोना चमारी राजस्थान के ददरेवा की रहने वाली थी | यह गोगा जाहरवीर की माता वाशल की दासी थी | गोगा जाहरवीर इन्हें भी अपनी माँ मानते थे | यह जाति से चमार थी इसलिए इन्हें लोना चमारी कहा जाता था | यदि इस लोना चमारी को सिद्ध कर लिया जाये या इनकी दुहाई दी जाये तो जाहरवीर बाबा भी जाग्रत हो जाते है | इस लोना चमारी की पूजा राजस्थान में होती है और इन्हें गुरु गोरखनाथ की शिष्या माना जाता है |

इन सब के अतिरिक्त एक और अन्य लोना चमारी कामरूप कामख्या में पूजी जाती है | इन्हें इस्माइल योगी की शिष्या माना जाता है और इन्हें लोना योगन भी कहा जाता है | लोना चमारी के रूप में सबसे अधिक पूजा और सिद्धियाँ कामरूप कामाख्या वाली लोना चमारी की ही होती है |लोना चमारी तंत्र की दुनिया की जानी मानी ज्ञाता है लोना चमारी साधना अत्यंत सरल है और काफी ग्रामीण लोग इसकी साधना करते ही है

ग्रहों के बल और उनकी अवस्था

Recommended Posts

No comment yet, add your voice below!


Leave a Reply